कोरोना महामारी से पीड़ित निर्वाणी अखाड़े के प्रमुख महामंडलेश्वर स्वामी कपिल देव का निधन

Mahamandaleshwar-Swami

हरिद्वार: धीरे धीरे कोरोना महामारी ने पूरे विश्व में हलचल मचा दी है।  खबरों के मुताबिक, निर्वाणी अखाड़ा के महामंडलेश्वर कपिल देव का निधन हो चुका है.. हरिद्वार कुंभ में वे मध्य प्रदेश से शामिल हुए थे.. उनमें कोरोना वायरस महामारी की पुष्टि मिली.. और संक्रमित होने के बाद उन्हें देहरादून के कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया था। खबरों के मुताबिक, उनका निधन 13 अप्रैल को हुआ था। इसे महाकुंभ की वजह से संत की पहली मौत बताया गया है।

शम्भू कुमार झा (रिद्वार के मुख्य चिकित्सा अधिकारी हैं) ने न्यूज एजेंसी पीटीआई को जानकरी दी कि “महामंडलेश्वर मध्य प्रदेश से यात्रा कर महाकुंभ मेले पहुंचे थे। वो यहाँ हरिद्वार में शाही कुम्भ स्नान करने के लिए आए थे। स्नान के बाद अचानक से उनकी तबीयत बिगड़ गई, जिसके चलते हमने उन्हें देहरादून के कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया था।”

Kumbh-Mela

हरिद्वार में, कोरोना दिशानिर्देशों के सकल उल्लंघन का प्रभाव अब दिखाई दे रहा है। पिछले 72 घंटों में, केवल हरिद्वार के मेला क्षेत्र से 1,500 से अधिक संक्रमित मामले प्रकाश में आए हैं और कई लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।  कोरोना रोगियों की संख्या में और वृद्धि होने की उम्मीद है क्योंकि बड़ी संख्या में कोरोना रिपोर्ट अभी आनी बाकी है।

अभी उत्तराखंड सरकार ने हरिद्वार कुंभ मेले की अवधि को कम करने से इनकार कर दिया है।  सरकार की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि मेला अवधि को कम करने पर अभी तक कोई विचार नहीं किया गया है, न ही राज्य सरकार ने केंद्र को इस तरह का कोई प्रस्ताव भेजा है, कुंभ 30 अप्रैल की अपनी समय सीमा पर समाप्त हो जाएगा।

Kumbh Mela में आज तीसरे शाही स्नान में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़, कोरोना के 594 नए मामले भी आए सामने

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *