नीतीश कुमार के कैबिनेट मंत्री Kapildev Kamat की कोरोना से हुई मृत्यु, पटना के AIIMS अस्पताल में थे भर्ती

Kapildev-Kamat

बिहार में जल्द ही विधानसभा चुनाव (Bihar Chunav 2020) होने वाले हैं। ऐसे में पार्टियों के बीच सियासी घमासान चल रहा है। अब बिहार से एक बड़ी खबर आ रही है। नीतीश कुमार सरकार के राज मंत्री कपिलदेव कामत का निधन हो गया है। बताया जा रहा है कि उनकी मृत्यु कोरोना वायरस संक्रमण से हुई है। उन्हें बिमारी के चलते कुछ दिन पहले ही पटना के एम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 

रिपोर्ट के अनुसार, उन्हें अचानक से सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। उनकी तबीयत को देखते हुए उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था। इससे पहले भी पार्टी के एक एक और मंत्री विनोद सिंह का भी निधन हो गया था। अब नीतीश कैबिनेट ने अपने एक और मंत्री को खो दिया है, जिससे पार्टी को झटका लग सकता है।

घटना के बाद बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने शोक जताया है। कपिलदेव कामत के असामयिक निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए एक सन्देश जारी किया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने शोक संदेश में कहा कि कपिलदेव कामत एक बहुत ही अच्छे व्यक्तित्व और जमीन से जुड़े राजनेता थे। कपिलदेव कैबिनेट में मेरे सहयोगी और एक कुशल प्रशासक थे। आज उनकी मृत्यु की खबर सुनी। उनकी अचानक से हुए निधन से मुझे व्यक्तिगत रूप से काफी चोट पहुंची है। उनकी मृत्यु से राजनीतिक और सामाजिक क्षेत्रों में बहुत ज्यादा नुक्सान हुआ है।

कोरोना में हालत गंभीर होने से उनकी मृत्यु के बाद आज उनका राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। उनके अंतिम संस्कार में कोविड-19 के लिए वर्तमान में लागू दिशा-निर्देशों का पालन किया जाएगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उनके परिजनों और प्रशंसकों को दुख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है।

nitish-kumar

न केवल बिहार में बल्कि पूरे भारत में कोरोना वायरस के रोजाना हजारों मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे में बिहार में मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी देखी जा रही है। केवल बिहार राज्य में कोरोना के दो लाख आठ हजार से ज्यादा मरीज हैं। कल यानी 15 अक्टूबर को बिहार राज्य में 1.08 लाख लोगों की कोरोना जांच की गई, जिसमें से 1276 पॉजिटिव केस सामने आए हैं। राजधानी पटना में ही 294 लोगों ने कोरोना पॉजिटिव बताए गए हैं। जबकि राजधानी पटना में मरने वालों को संख्या 8 थी।

पटना के एम्स अस्पताल में पांच लोगों की मृत्यु हुई है। जानकारी के लिए बता दें बांका और पटना जिले में 31 हजार 816 संक्रमितों में से 29 हजार से ज्यादा लोग कोरोना को हराकर आए हैं। जबकि 2477 से अधिक मरीजों का इलाज अभी भी जारी है। यहां मरने वालों की संख्या 235 है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी की गई रिपोर्ट में प्रदेश में अब तक 87.77 लाख से ज्यादा लोगों का कोरोना टेस्ट हो चूका है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *