BJP के 3 सांसदों ने Rahul Gandhi को विशेषाधिकार हनन और सदन की अवमानना करने पर जारी किया नोटिस

Rahul-Gandhi

शुक्रवार को लोकसभा में कांग्रेस नेता Rahul Gandhi के खिलाफ विशेषाधिकार हनन और सदन की अवमानना का उल्लंघन करने पर मुश्किल बढ़ गई है । भाजपा के सांसद Sanjay Jaiswal, निशिकांत दुबे और पीपी चौधरी ने 11 फरवरी, 2021 को “सदन के विशेषाधिकार हनन और अवमानना” का हवाला देते हुए गांधी के खिलाफ नोटिस दिया है।

यह नोटिस Rahul Gandhi को इसलिए जारी किया है क्योंकि उन्होंने शुक्रवार को निचले सदन में दो मिनट के मौन के आह्वान किया। यह दो मिनट का आह्वान  उन किसानों के लिए किया गया जिन्होंने कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शनमें अपनी जान गंवा दी थी।

यह एक तरह का नाटकीय कदम कहा गया जिसमें Rahul Gandhi ने गुरुवार को अपनी पार्टी के सदस्यों, टीएमसी और डीएमके के नेतृत्व में हालिया चल रहे आंदोलन के दौरान किसानों की मौत पर शोक व्यक्त करने के लिए दो मिनट का मौन धारण किया। उन्होंने यह भी दावा किया कि इस विरोध प्रदर्शन में देश के करीब 200 किसानों की मृत्यु हो गई है। Rahul Gandhi ने आगे कहा कि वो ऐसा इसलिए कर रहे हैं क्योंकि सरकार ने उन किसानों को श्रद्धांजलि नहीं दी।

इतिहास में ऐसा शायद पहली बार हुआ था कि कुछ सदस्य चेयर द्वारा ऐसा करने के लिए कहे बिना मौतों का शोक मनाने के लिए मौन खड़े रहे।

इस घटना के बाद Sanjay Jaiswal ने कहा कि गांधी ने अपने पार्टी के सदस्यों को स्पीकर से अनुमति लिए बिना मौन रहने का आदेश दिया। इस बारे में सदन को कोई न कोई एक्शन लेना चाहिए। सिंह ने आरोप लगाया कि Rahul Gandhi ने एक अस्वाभाविक व्यवहार दिखाया है और इसने संसद की गरिमा को प्रभावित किया है।

Sanjay-Jaiswal

इसके साथ ही Rahul Gandhi पर संसद के नियमों के खिलाफ काम करने जैसे आरोप भी लगाए गए हैं। चौधरी ने भी इस बारे में अपने विचार रखते हुए कहा कि राहुल का ऐसा व्यवहार विशेषाधिकार का गंभीर उल्लंघन है।

सांसद में इस तरह की घटना पहली बार हुई है और सबसे बड़ी बात बहुत से सांसदों ने ऐसा किया। लोक सभा को इस पर कोई न कोई कार्रवाई अवश्य करनी चाहिए। 

भाजपा सांसद Sanjay Jaiswal ने कहा कि विशेषाधिकार प्रस्ताव नोटिस Rahul Gandhi के खिलाफ है जिन्होंने आदेश दिए और सभी सांसद जो उठे, उन्होंने अपमान किया।

इससे पहले, सोमवार को दुबे और चौधरी ने सोमवार को लोकसभा में भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश के खिलाफ अपनी टिप्पणी पर तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के सांसद महुआ मोइत्रा के खिलाफ विशेषाधिकार हनन नोटिस का उल्लंघन किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *