जानिए क्या होता है साइनस (Sinus) और इसके लक्षणों के बारे में

Know what is sinus and its symptoms

साइनसाटिस क्यों होता है? (Know what is Sinus)

साइनस (Sinus) खोपड़ी की हड्डियों के भीतर की वह खोखली जगह है जो छोटे-छोटे चैनलों के माध्यम से आपकी नाक से जुड़ी होती है. जैसा कि हमने ऊपर बताया, साइनस आंखों के बीच में माथे, नाक और गाल की हड्डियों के पीछे की तरफ होते हैं. इनमें एक पतला तरल यानी बलगम (Mucus) जमा होता है, जो नाक के जरिए प्रवेश करने वाले कीटाणुओं, धूल, प्रदूषण तत्वों और एलर्जी पैदा करने वाली चीजों को फंसा लेता है और उन्हें शरीर में प्रवेश करने से रोक देता है. आप सांस के जरिए जो हवा लेते हैं, साइनस उसे गर्म और नम रखने में भी मदद करते हैं।

यह समझना जरूरी है कि स्वस्थ साइनस (Sinus) में हवा भरी रहती है. जब Sinus में तरल बनने लगता है, कीटाणुओं को बढ़ने का मौका मिलता है और संक्रमण का कारण बनता है तो साइनसाइटिस या साइनस इंफेक्शन की समस्या हो जाती है. साइनसाइटिस के कारणों में कई रोगजनक, पर्यावरणीय कारण और कुछ पदार्थ शामिल हो सकते हैं।

विशेषज्ञों ने इस बीमारी के खास लक्षण भी बताए जिनके आधार पर आप इस बीमारी को आसानी से पहचान सकते हैं। जानिए Sinus के यह 9 प्रमुख लक्षण –

1 सिर का दर्द होना
2 बुखार रहना
3 नाक से कफ निकलना और बहना
4 खांसी या कफ जमना
5 दांत में दर्द रहना
6 नाक से सफेद हरा या फिर पीला कफ निकलना
7 चेहरे पर सूजन का आ जाना
8 कोई गंध न आना
9 Sinus की जगह दबाने पर दर्द का होना आदि इसके लक्षण हैं।

जांच – वैसे तो साइनस (Sinus) की समस्या कोई गंभीर बीमारी नहीं है, लेकिन समय रहते इसका इलाज नही कराया गया तो मरीज को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। डॉ. विवेक वर्मा के अनुसार मरीज को यह बीमारी है या नहीं, यह जानने के लिए सि‍टी स्कैन या एमआरआई के अलावा Sinus के अन्य कारणों को लेकर खून की जांच भी की जाती है, जिससे हमें बीमारी होने का ठोस कारण पता चल सके।

इलाज – अगर सिटी स्कैन व एलर्जी टेस्ट आदि करवाकर यदि नाक की हड्डी एवं साइनस की बीमारी सामने आती है, तो उस मरीज को घबराने की जरूरत नहीं है। आज कल इसका ऑपरेशन दूरबीन विधि से या फिर नाक की इंडोस्कोपिक साइनस सर्जरी करा सकते हैं। साइनस से ग्रसित व्यक्तियों को धुंए और धूल से बचना चाहिए। साथ ही साथ आप उबलते हुए पानी की भाप या सिकाई भी कर सकते हैं, इस दौरान पंखा और कूलर भी बंद कर लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *